{200+} उत्साह शायरी || Utsah Shayari In Hindi

तो दोस्तों आज हम आप लोगों के साथ साझा करने वाले हैं उत्साह शायरी इन हिंदी का संपूर्ण कलेक्शन जो कि आप लोगों को काफी पसंद आएगा।

उत्साह शायरी आप क्यों ढूंढ रहे हो क्योंकि आप कोई काम करना चाहते हो वह भी उत्साह के साथ और उत्साह से करने के लिए आपको एक ऐसी उत्साह भरी शायरी की जरूरत पढ़ती है यानी कि कोई उत्साह करने वाला या फिर उत्साह वाली शायरी जिसको पढ़ कर आप अपने अंदर उस काम के प्रति उत्साह पैदा हो जाए।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

किसी भी काम को करने के लिए एक उत्साह की जरूर आवश्यकता होगी तो फिर उत्साह के बिना हो कोई भी कार्य अच्छे ढंग से नहीं कर पाते हैं क्योंकि उस काम के प्रति हमें उत्साह होना बहुत ही जरूरी है और उत्साह के लिए हमने कोई उत्साहित करने वाला व्यक्ति या फिर उत्साहित करने वाली शायरी की जरूरत पड़ती है।

उत्साह शायरी इन हिंदी आप कहीं से भी सर्च करके आए हो पर आप सही जगह पर आए हो मेरे दोस्त क्योंकि हमने यहां पर बहुत भारी उत्साह शायरी का कलेक्शन करके रखा है जो कि आप लोगों को काफी पसंद आएगा।

उत्साह शायरी पढ़ने के लिए नीचे स्टोल करके चाहिए और आप अपने मनपसंद की उत्साह शायरी को ढूंढ लीजिए क्योंकि हमें बहुत सारा कलेक्शन दिया है जिसमें से आपको कोई ना कोई शायरी जरूर पसंद आएगी।

उत्साह शायरी इमेजेस

घर से निकलो तो पूरे उत्साह के साथ,
आपकी ज़िंदादिली दूसरों को भी उत्साहित करती है।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

मन में एक उत्साह रहे,
जीने की नयीं चाह रहे।
सब कुछ मिलता है खुदा के दर पे,
बस मन में सच्ची श्रद्धा रहे।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

मन में एक उत्साह रहे,
खुदपर अपना विश्वास रहे।
असंभव भी संभव होगा,
चाहे क्यों ना दुश्मनों की दीवार रहे।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

गुजरते थे हम जिनकी राह से,
गिर गये वो ही निगाह से।
हाथ तो अब भी हम हैं मिलाते,
मिलते नहीं उत्साह से।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

मन में एक उत्साह रहे,
जितनी मुश्किल राह रहे।
सबके खुशी की चाह रहे,
अपनों की भी परवाह रहे।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

उत्साह उतरता है सूरज की किरणों सा,
टकराकर हर मुश्किल से रोशन जग करता है।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

जब टूटने लगे होसले तो बस ये याद रखना,
बिना मेहनत के हासिल तख्तो ताज नहीं होते।
ढूंड लेना अंधेरों में मंजिल अपनी,
जुगनू कभी रौशनी के मोहताज नहीं होते।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

खुशबू बनकर गुलों से उड़ा करते हैं,
धुआं बनकर पर्वतों से उड़ा करते हैं।
ये कैंचियाँ खाक हमें उड़ने से रोकेगी,
हम परों से नहीं हौसलों से उड़ा करते हैं।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

जिन्दगी में कई मुश्किलें आती है,
और इन्सान जिन्दा रहने से घबराता हैं।
ना जाने कैसे हजारो कांटो के बीच,
रह कर एक फूल मुस्कुराता है।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

गम ना कर, जिंदगी बहुत बड़ी है,
चाहत की महफ़िल तेरे लिए सजी है।
बस एक बार मुस्कुरा कर तो देख,
तकदीर खुद तुझसे मिलने बाहर खड़ी है।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

उत्साहवर्धक शायरी

फूल बनकर मुस्कुराना जिंदगी,
मुस्कुराके गम भूलना जिंदगी।
जीत कर कोई खुश हो तो क्या हुआ,
हार कर खुशिया मनाना भी जिंदगी।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

हर रिश्ते में विश्वास रहने दो,
जुबान पर हर वक्त मिठास रहने दो।
यही तो अंदाज है जिंदगी जीने का,
न खुद रहो उदास, न दूसरों को रहने दो।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

कितनो की तकदीर बदलनी है तुम्हे,
कितनो को रास्ते पे लाना है तुम्हे।
अपने हाथ की लकीरो को मत देखो,
इन लकीरो से आगे जाना है तुम्हे।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

सामने हो मंजिल तो रास्ते ना मोड़ना,
जो भी मन में हो वो सपना ना तोडना।
कदम – कदम पर मिलेगी मुशकिल आपको,
बस सितारे चुन – ने के लिए कभी जमीन को मत छोड़ना।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

बुझी शमा भी जल सकती है,
तूफान से कश्ती भी निकल सकती है।
हो के मायूस ना यू,अपने इरादे बदल,
तेरी किस्मत कभी भी बदल सकती है।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

गम के अंधेरों में दिल को ना बेकार कर,
सुबह जरुर होगी, सुबह का इंतजार कर।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

कितनी आसान थी जिन्दगी तेरी राहें,
मुश्किलें हम खुद ही खरीदते है।
और कुछ मिल जाये तो अच्छा होता,
बहुत पा लेने पर भी यही सोचते है।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

आओ झुक कर सलाम करे उन्हें,
जिनकी जिंदगी में ये मुकाम आया है।
किस कदर खुशनसीब है वो लोग,
जिनका लहू देश के काम आया है।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

सर झुकाओगे तो पत्थर भी देवता हो जायेगा,
इतना ना चाहो उसे, वो बेवफा हो जायेगा।
हम भी दरिया है, हमें अपना हुनर मालूम है,
जिस तरफ चल पड़े रास्ता हो जायेगा।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

मिटा सके जमाना जमाने में दम नहीं,
हमसे है जमाना जमाने से हम नहीं।

उत्साह शायरी
Utsah Shayari In Hindi
उत्साहवर्धक शायरी
Utsah Badhane Wali Shayari
उत्साह वाली शायरी
Utsah Shayari Images

उत्साह बढ़ाने वाली शायरी

अगर देखना चाहते हो तुम मेरी उड़ान को,
तो जाओ जाकर थोड़ा ऊचा करो इस आसमान को।

अगर फलक को जिद है, बिजलियाँ गिराने की,
तो हमें भी जिद है, वहीं आशियाँ बनाने की।

जिन हाथों में शक्ति है राज तिलक देने की,
उन हाथों में शक्ति है शीश उतार लेने की।

जिस पर सर न झुके वह दर नहीं,
जो हर दर पर झुके वह सर नहीं।

तू हँस तू मुस्कुरा, कमर कस,
और रोना बंद कर दे।
तू ज़िंदा है महसूस कर और,
ज़िन्दगी अपनी मुकम्मल कर दे।

कभी हारने का इरादा हो तो,
उन लोगो को याद कर लेना,,
जिन्होंने कहा था की तुमसे ना हो पाएगा।

मिलता तो बहुत है इस ज़िन्दगी में,
बस हम गिनती उसी की करते है,,
जो हासिल ना हो सका।

Success की सबसे ख़ास बात यह है की,
वो मेहनत करने वालो पर फ़िदा हो जाती है।

बहुत मुश्किल होता है दिमाग,
के कहने पर दिल को समझाना।

में धीरे धीरे चलूँगा पर चलूँगा जरूर,
सुख और दुःख को सहकर निखरुंगा जरूर।

उत्साह वाली शायरी

बुराई भी ज़रूरी है जनाब,
अगर रोज़ तारीफ मिलेगी तो आगे नहीं बढ़ पाओगे।

आप सब कुछ तो नहीं कर सकते,
लेकिन ऐसा कर सकते है जो किसी ने किया ना हो।

दोस्ती हो या दुश्मनी सलामी दूर से अच्छी होती है,
सफल जो हो जाते हैं उनकी लगन सच्ची होती हैं।

आँखों में पानी रखों होंठो पे चिंगारी रखो,
जिन्दा रहना हैं तो तरकीबे बहुत सारी रखो।
राह के पत्थर से बढ़ के कुछ नही हैं मंजिले,
रास्ते आवाज़ देते हैं सफ़र जारी रखो।

आने वाले, जाने वाले हर ज़माने के लिए,
आदमी मजदूर हैं राहें बनाने के लिए।

भूखा पेट, खाली ज़ेब और झूठा प्रेम,
इंसान को बहुत कुछ सिखा देता हैं।

हो गई हैं पीर पर्वत से पिघलनी चाहिए,
इस हिमालय से कोई गंगा निकलनी चाहिए।

गिरकर उठना उठकर चलना यह क्रम हैं संसार का,
कर्मवीर को फ़र्क न पड़ता किसी जीत या हार का।

हौंसले जिनके अकेले चलने के होते हैं,
एक दिन उनके पीछे ही काफ़िले होते हैं।

नजर लक्ष्य पर थी, गिरे और संभलते रहे,
हवाओं ने पूरा ज़ोर लगा दिया, फ़िर भी चिराग़ जलते रहे।

Utsah Shayari Images

लक्ष्य हर कोई बनाता हैं, पर पाता वही हैं,
जिसका सच्चा ईमान होता हैं।
वही बदलते हैं रूख हवाओं का,
जिनके इरादों में जान होता हैं।

लक्ष्य मिले या ना मिले ये तो किस्मत की बात हैं,
पर मैं कोशिश भी ना करूँ ये तो ग़लत बात हैं।

लक्ष्य को पाने के लिए यदि हम तन मन और धन लगा देते हैं,
सच कहता हूँ दोस्तों कुंडली के सितारे भी अपनी जगह बदल देते हैं।

संघर्ष की मार्ग पर जो वीर चलता हैं,
वो ही इस संसार को बदलता हैं।
जिसने अन्धकार, मुसीबत और ख़ुद से जंग जीती,
सूर्य बनकर वही निकलता हैं।

भगवान का दिया कभी अल्प नही होता,
जो टूट जाए वो संकल्प नही होता।
हार को जीत से दूर ही रखना,
क्योकि जीत का कोई विकल्प नही होता।

जो तेज आँधियों का झोंका हैं, उसको किसने रोका हैं,
कायरो के लिए जो मुश्किल हैं, वही वीरो के लिए मौका हैं।

ख्वाहिशों से नही गिरते हैं, फूल झोली में,
कर्म की साख़ को हिलाना होगा।
कुछ नही होगा कोसने से किस्मत को,
अपने हिस्से का दीया ख़ुद ही जलाना होगा।

कदम बढ़ाया है जो आगे तो रुकने का नाम न लो,
मत बैठो तुम थक कर जब तक विजय पताका थाम न लो।

उन्हीं के क़दमों में ये सारा जहाँ होता है,
जिनका आशियाना बीच आसमान होता है।
फिर तो फितरत सी बन जाती है मुश्किलों से लड़ने की,
और हर मुकाम पर पहुंचना आसान होता है।

कदम छोटे भी हों तो कोई फर्क नहीं पड़ता,
बढ़ते रहें तो मंजिल नजदीक आती है।
ख़ाक हो जाते हैं वो जो,
अपने हालातों को मानते हैं किस्मत अपनी,
हौसलें बुलंद हो तो किस्मतें बदल जाती हैं।

Utsah Wali Shayari

जरूरी नहीं कि हो जाए हर ख्वाहिश पूरी,
उन ख्वाहिशों तक जाने वाले रस्ते भी हसीन होते हैं।

मंजिलें मैंने चुनीं हैं तो रस्ते भी मेरे होंगे,
है रात अँधेरी तो क्या कभी अपने सवेरे होंगे।
सपने देखें हैं तो उन्हें पूरा भी करूँगा,
अपनी सपनों की नगरी में होंगे बसेरे मेरे।

मेरी सोच को जो हिला न सके वो जज़्बात क्या है?
इन परेशानियों से जो हुयी हैं वो मुलाकात क्या है?
हम तो लिखने आयें हैं एक नई दास्तान धरती पर,
मिटा सके जो वजूद हमारा जिंदगी की औकात क्या है?

जब हालातों का सामना करना मजबूरी हो जाता है,
उस वक़्त खुद से बगावत करना जरूरी हो जाता है।

खुशियाँ हो या गम हो हमें हर हाल में हँसना है,
पाना है अपनी मंजिलों को और एक नया इतिहास रचना है।

खुदा ने उस शख्स के हालत कभी नहीं बदले,
ना हो जिसे खुद अपने हालात बदलने का।

गिरकर उठाना उठकर चलना यह क्रम हैं संसार का,
कर्मवीर को फ़र्क न पड़ता किसी जीत या हार का।

यदि अंधकार से लड़ने का संकल्प कोई कर लेता हैं,
तो एक अकेला जुगनू भी सब अन्धकार हर लेता हैं।

जिस दिन आपने अपनी सोच बड़ी कर ली,
बड़े-बड़े लोग आपके बारे में सोचना शुरू कर देंगे।

मत दे दुआ किसी को अपनी उमर लगने की,
यहाँ ऐसे भी लोग है जो तेरे लिए जिन्दा हैं।

Utsah Ki Shayari

चलो आज फिर थोडा मुस्कुराया जाये,
बिना माचिस के कुछ लोगो को जलाया जाये।

छोड़ दो मुड़कर देखना उनको जो तुमसे दूर जाया करते हैं,
जिनको साथ नहीं चलना होता वो अक्सर रूठ जाया करते हैं।

बुलंदी तक पहुँचना चाहता हूँ मैं भी,
पर गलत राहों से होकर जाऊँ, इतनी जल्दी भी नहीं हैं।

हमको मिटा सके, ये जमाने में दम नहीं,
हमसे जमाना खुद है, जमाने से हम नहीं।

मंजिल उन्ही को मिलती है,
जिनके सपनो में जान होती है।
पंख से कुछ नहीं होता,
हौसलो से उड़ान होती है।

सोच को बदलो, सितारे बदल जायेंगे
नजर को बदलो, नज़ारे बदल जायेगे।
कश्तियाँ बदलने की जरुरत नहीं,
दिशाओं को बदलो, किनारे बदल जायेंगे।

लहरों की रवानी देख कर यह न समझाना,
कि समंदर में रवानी नहीं है।
जब भी उठेंगे तूफान बन के उठेंगे,
अभी हमने उठने की ठानी नहीं है।

मंजिल पर पहुँचना है तो कभी राह के काँटों से मत घबराना,
क्योंकि काँटे ही तो बढ़ाते हैं रफतार हमारे कदमों की।

जिंदगी में बार बार सहारा नहीं मिलता,
बार-बार कोई प्यार से प्यारा नहीं मिलता।
तुम्हारे जो पास है उसे संभाल के रखना,
खो कर वो फिर कभी दुबारा नहीं मिलता ।

सपने सच होंगे।
पर इस के लिए पहले आपको
सपने देखने होंगे।

Utsah Bhari Shayari

वक्त से लड़कर जो नसीब बदल दे,
इंसान वही जो अपनी तकदीर बदल दे।
कल क्या होगा कभी मत सोचो,
क्या पता कल वक्त खुद अपनी तस्वीर बदल।

छू ले आसमान, जमीन की तलाश ना कर,
जी ले जिंदगी, ख़ुशी की तलाश ना कर।
तकदीर बदल जाएगी खुद ही मेरे दोस्त,
मुस्कुराना सीख ले, वजह की तलाश ना कर।

जिन्दगी जिन्दादिल्ली का नाम है,
मुर्दा दिल क्या खाक जिया करते है।

उम्मीद वक्त का सबसे बड़ा सहारा है,
अगर हौसला हो हर-मौज में किनारा है।

थोड़ी आँच बची रहने दो थोड़ा धुँआ निकलने दो,
कल देखोगे कई मुसाफ़िर इसी बहाने आएँगे।

जुस्तजू हो तो सफर ख़त्म कहाँ होता है,
यूँ तो हर मोड़ पर मंजिल का गुमाँ होता है।

शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर वर्ष मेले,
वतन पर मर मिटने वालों का,,
यही तो बाकी निशाँ होगा।

अच्छा हुआ जो हमारे दुश्मन एक हो गए,
अब मुकाबला बराबरी का होगा।

यूँही नहीं बदल जाते लोग ज़िन्दगी में,
कुछ ठोखर ऐसी लगती है,,
जो सही से चलना सीखा देती है।

उम्मीदों के सामने नंगे पाँव खड़े थे,
दुनिया क्या कहती है क्या नहीं,,
लेकिन सपने मेरे तब भी मेरी औकात से बड़े थे।

Utsah Badhane Wali Shayari

हिम्मत ना खोना अभी बहुत आगे जाना है,
जिन्होंने कहा था तेरे बस का नहीं,,
उन्हें भी तो कर के दिखाना है।

एक दिन तो खुशियां आयंगी ही,
तब तक गम के आंसू ही पी लो।
अरे अपने लिए ना सही तो,
कम से कम अपनों के लिए ही जी लो।

Leave a Comment